Menu

समेकित वित्‍तीय विवरण – क्षेत्रीय ग्रमीण बैंकों द्वारा वित्‍तीय परिणामों की सीमित समीक्षा – सेबी के दिशानिर्देशों का कार्यान्‍वयन
बाह्य परिपत्र सं.          / डॉस -       /2020                02 मार्च 2020 
संदर्भ सं. राबैं.डॉस.पॉल.प्रका/            / पॉल-जे-1/ 2019-20  
अध्‍यक्ष 
सभी क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक 
 
प्रिय महोदय 
 
समेकित वित्‍तीय विवरण – क्षेत्रीय ग्रमीण बैंकों द्वारा वित्‍तीय परिणामों की सीमित समीक्षा – सेबी के दिशानिर्देशों का कार्यान्‍वयन 
हम आपका ध्‍यान दिनांक 29 मार्च 2019 के सेबी के परिपत्र सं.सीआईआर/सीएफडी/सीएमडी 1/44/2019 (प्रतिलिपि संलग्न) की ओर आकर्षित करते हैं। सेबी के विनियमन 2015 (सूचिबद्धता दायित्‍व और प्रकटीकरण अपेक्षा) के विनियम 33 में शामिल किए गए नए उप-विनियम 8 के अनुसार एक सूचिबद्ध निकाय का सांविधिक ऑडिटर उन सभी निकायों/ कंपनियों, जिनका एकाउन्‍ट एकाउंटिंग स्‍टैंडर्ड 21 के तहत इस विषय पर बोर्ड द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुसार सूचिबद्ध निकायों के साथ समेकित किया जाना है, के ऑडिट की सीमित समीक्षा  करेगा। 
 
2.   हम आपका ध्‍यान दिनांक 16 जून 2009 के हमारे परिपत्र सं.86/ डॉस–19/2009 (वित्‍तीय विवरण में प्रकटीकरण – एकाउंट्स पर नोट) के पैरा 13.7 की ओर भी आकर्षित करते हैं, जिसमें क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को अपने सांविधिक सनदी लेखाकारों से छमाही समीक्षा कराने के लिए एक प्रणाली स्‍थापित करने के  लिए सूचित किया गया है। इसके अनुक्रम में, अब हम क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को सूचित करते हैं कि अब से वे अपने सांविधिक ऑडिटर से तिमाही आधार पर ऑडिट कराएं, ताकि उनके प्रायोजक बैंकों के सांविधिक लेखापरीक्षक तिमाही ऑडिट की सीमित समीक्षा कर सकें और सेबी को समेकित वित्‍तीय विवरण प्रस्‍तुत किया जा सके।   
3.   यह उल्‍लेख है कि तिमाही वित्‍तीय विवरण (लेखा परीक्षित) की एक प्रति नाबार्ड के एन्‍श्‍युर पोर्टल पर ऑफ साइट रिटर्न्‍स (ओएसआर) के रूप में अपलोड किया जाए। क्षेत्रीय 
 
ग्रामीण बैंक, ऑडिट रिपोर्ट की एक प्रति अपने प्रायोजक बैंक और संस्‍थागत विकास विभाग, नाबार्ड, प्रधान कार्यालय, मुंबई को भी भिजवाएं। 
 
4.   कृपया इस परिपत्र की प्राप्ति सूचना हमारे संबंधित क्षेत्रीय कार्यालय को भिजवाएं। 
भवदीय
 
हस्ता/-
(के॰एस॰रघुपति) 
मुख्‍य महाप्रबंधक 
संलग्‍नकः यथोक्‍त