Menu
लैटिन अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ डेवलपमेंट फाइनन्सिंग इन्स्टीट्यूशन (एएलआईडीई) के प्रतिनिधि मण्डल के साथ बैठक – 24 अक्तूबर 2018
मुंबई | 24 October 2018 04:26 PM
लैटिन अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ डेवलपमेंट फाइनन्सिंग इन्स्टीट्यूशन (एएलआईडीई) के प्रतिनिधि मण्डल के साथ 24 अक्तूबर 2018 को नाबार्ड, प्रधान कार्यालय, मुंबई में बैठक आयोजित की गई.  अलाइड,  लैटिन अमेरीकन और कैरीबियन विकास बैंकिंग संस्थाओं और हितों का प्रतिनिधित्व करता है.  प्रतिनिधि मण्डल के भारत दौरे का उद्देश्य विभिन्न विकास वित्त संस्थाओं का दौरा करना और कृषि और ग्रामीण विकास में नाबार्ड की भूमिका को समझना तथा नाबार्ड के साथ सहयोग की संभावनाओं का पता लगाना था. अलाइड के महासचिव  श्री एड्गर्डो अगस्टो अलवारेज ने प्रतिनिधि मण्डल का नेतृत्व किया. प्रतिनिधि मण्डल के अन्य सदस्यों में लैटिन अमेरिका की विभिन्न संस्थाओं  नामतः नेशनल चैंबर ऑफ कॉमर्स ऑफ बोलिविया; बैंक नेशनाले दे क्रेडिट, हैती; बैंको नसीनल दे कोमेरिका एक्सटेरियर, मैक्सिको; फिनंसिएरा एम्प्रेदेडोरेस, मैक्सिको; बैंको दे फोमेंटों अ ला प्रोडक्शशन, निकारागुआ और डेवलपमेंट बैंक फो निकारागुआ के सदस्य शामिल थे. 
 
बैठक की अध्यक्षता नाबार्ड के अध्यक्ष डॉ हर्ष कुमार भनवाला ने की और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों नामतः श्री जिजी माम्मेन, मुख्य महाप्रबंधक, बीआईडी; श्री मुकेश ठक्कर, मुख्य महाप्रबंधक, सीपीडी; श्री आर महाजन, महाप्रबंधक, डीओआर; श्री जे श्रीवास्तव, महाप्रबंधक, एसपीडी; डॉ. डी रवीन्द्र, महाप्रबंधक, सीपीडी; डॉ. पी के महेश्वरी, डीजीएम, नैबकॉन्स, असम; श्री आर वी रामकृष्ण, डीजीएम, सीपीडी और डॉ. वाई हर गोपाल, डीजीएम, डीओआर ने उन्हें सहयोग दिया. 
 
आरंभ में श्री मुकेश ठक्कर, मुख्य महाप्रबंधक, सीपीडी ने प्रतिभागियों का स्वागत किया. डॉ. भनवाला, अध्यक्ष, नाबार्ड ने ग्रामीण समृद्धि में विकास वित्त संस्था की भूमिका पर प्रकाश डाला. अध्यक्ष महोदय ने नाबार्ड के समग्र अधिदेश को पूरा करने में नाबार्ड की सहायक संस्थाओं की भूमिका और विकास कार्य में नाबार्ड ने किस प्रकार अपने अनुभवों के आधार पर परामर्श सेवाएँ दी हैं इस संबंध में संक्षेप में जानकारी दी. उन्होंने नाबार्ड ने किस प्रकार जलवायु परिवर्तन संबंधी परियोजनाओं के वित्तपोषण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और किस प्रकार नाबार्ड ने यूएनएफ़सीसीसी और भारत सरकार की जलवायु परिवर्तन संबंधी निधियों का उपयोग किया इसकी जानकारी भी दी. अध्यक्ष महोदय ने नाबार्ड की वित्तीय सुदृढ़ता और नाबार्ड के मानव संसाधन तथा कृषि और ग्रामीण क्षेत्रों के क्षमता निर्माण में नाबार्ड की संस्था निर्माण की महत्वपूर्ण भूमिका पर भी प्रकाश डाला. नाबार्ड के समग्र कार्यों पर कॉर्पोरेट आयोजना विभाग ने प्रेजेंटेशन दिया और उसके बाद नैबकॉन्स द्वारा प्रेजेंटेशन दिया गया. 
 
तत्पश्चात्,  सूक्ष्मवित्त में नाबार्ड की विशिष्ट भूमिका, हमारे निधीयन के संसाधनों, पुनर्वित्त कार्यों और पर्यवेक्षण कार्यों में नाबार्ड की भूमिका साथ ही कृषि और ग्रामीण वित्त में डिजिटाइजेशन और प्रौद्योगिकी के स्तर में रुचि प्रदर्शित करने वाले अलाइड के प्रतिनिधि मण्डल के साथ चर्चा सत्र का आयोजन किया गया. प्रतिनिधि मण्डल का नेतृत्व करने वाले अलाइड के महासचिव श्री एड्गर्डो अगस्टो अलवारेज अलाइड की विभिन्न सदस्य संस्थाओं के साथ सहयोग को आगे ले जाने के लिए नाबार्ड के साथ सहमति ज्ञापन निष्पादित करने के लिए इच्छुक थे. 
 
धन्यवाद ज्ञापन के साथ बैठक का समापन किया गया. बैठक के कुछ फोटो नीचे दिए गए हैं.