Menu
25 जनवरी 2019 को सुश्री सबाइन प्रियस, कार्यक्रम निदेशक और एनआरएम क्लस्टर समन्वयक तथा मोहम्मद अल-खवाद, आगामी कार्यक्रम निदेशक और एनआरएम क्लस्टर समन्वयक, जीआईज़ेड के साथ बैठक
मुंबई | 25 January 2019 12:18 PM
25 जनवरी 2019 को अध्यक्ष महोदय और उप प्रबंध निदेशक (एचआरडी) ने सुश्री सबाइन प्रियस, कार्यक्रम निदेशक और एनआरएम क्लस्टर समन्वयक तथा मोहम्मद अल-खवाद, आगामी कार्यक्रम निदेशक और एनआरएम क्लस्टर समन्वयक, जीआईज़ेड तथा श्री राजीव अहल, निदेशक, एनआरएम, जीआईज़ेड के साथ बैठक की. 
 
अध्यक्ष महोदय ने नाबार्ड के साथ सुश्री प्रियस के नाबार्ड के साथ जुड़ाव को याद किया और यूपीएनआरएम के कार्यान्वयन तथा बर्ड में जलवायु परिवर्तन केंद्र की स्थापना में उनके बहुमूल्य योगदान के लिए आभार व्यक्त किया. उप प्रबंध निदेशक ने श्री मोहम्मद अल-खवाद का भारत में स्वागत किया और उम्मीद जताई कि फिलहाल कार्यान्वित किए जा रहे कार्यक्रमों, नाबार्ड-जीआईज़ेड यूपीएनआरएम फेज II, नाबार्ड-जीआईज़ेड मृदा परियोजना और नाबार्ड- जीआईज़ेड- बर्ड जलवायु परिवर्तन केंद्र में श्री मोहम्मद के नेतृत्व में काम कर रही जीआईज़ेड की टीम के साथ सहयोग चलता रहेगा. अध्यक्ष महोदय ने एफ़पीओ के लिए भी एक केंद्र की स्थापना की उपयोगिता का उल्लेख किया और कहा कि ऐसा केंद्र एफ़पीओ के क्षमता निर्माण और भविष्य में संधारणीय संस्थाओं के रूप में इनके विकास के लिए आवश्यक सहायक सेवाएँ उपलब्ध कराने में अनेक बाह्य हितधारकों के साथ समन्वय के लिए जिम्मेदार होगा.  उप प्रबंध निदेशक ने कहा कि जीआईज़ेड के साथ सहकार को नाबार्ड बहुत मूल्यवान मानता है और दोनों संस्थाएं न केवल जमीनी स्तर पर कार्यक्रमों के कार्यान्वयन में बड़े पैमाने पर भागीदार हैं बल्कि वे नीति निर्माताओं के साथ भी संवाद करती हैं और इसलिए हम कार्यक्रमों के कार्यान्वयन से आगे बढ़कर संस्थागत स्तर पर व्यापकतर परस्पर सहयोग कर सकते हैं और भविष्य के लिए नई सोच को आगे बढ़ा सकते हैं. 
 
जीआईज़ेड की टीम के साथ हुई बैठक में श्री एम सी ठक्कर, मुख्य महाप्रबंधक, सीपीडी, डॉ डी रवीद्र, महाप्रबंधकS, सीपीडी और श्री रामकृष्ण, उप महाप्रबंधक, सीपीडी सहभागी हुए थे. तत्पश्चात् जीआईज़ेड की टीम ने श्री शंकर पांडे, मुख्य महाप्रबंधक, एफ़एसपीडी और उनकी टीम के साथ बैठक की.