Menu
भारत में उज़बेकिस्तान के राजदूत माननीय श्री फरहोद अर्जीव ने नाबार्ड के अध्यक्ष से मुलाक़ात की
मुंबई | 09 May 2019 04:20 PM
नाबार्ड के अध्यक्ष डॉ. हर्ष कुमार भनवाला ने भारत में उज़बेकिस्तान के राजदूत माननीय श्री फरहोद अर्जीव और उज़बेकिस्तान के दूतावास के व्यापार और आर्थिक विभाग के अध्यक्ष श्री उकताम शोमरातोव से मुलाक़ात की. माननीय श्री फरहोद अर्जीव भारत में कृषि और ग्रामीण विकास में नाबार्ड की भूमिका के बारे में जानना चाहते थे. दोनों देशों की अर्थव्यवस्था और संस्कृतियों के समान पक्षों पर प्रकाश डालते समय श्री अर्जीव ने यह संकेत दिया कि उज़बेकिस्तान भारत के अनुभवों से सीखने के लिए अत्यंत इच्छुक है. इसके अलावा उन्होंने डॉ. भनवाला से जून 2019 में किसी समय भारत का दौरा करने वाले उज़बेकिस्तान के कृषि बैंक के प्रतिनिधि मण्डल की मेज़बानी करने का अनुरोध किया. यह प्रतिनिधि मण्डल नाबार्ड के अनुभवों से मार्गदर्शन प्राप्त करना चाहता है. माननीय श्री फरहोद अर्जीव ने डॉ. भनवाला और उनकी टीम को उज़बेकिस्तान आने का निमंत्रण दिया ताकि दोनों देश अपने अनुभवों के आदान-प्रदान से परस्पर लाभान्वित हो सकें. 
 
नाबार्ड के अध्यक्ष डॉ. हर्ष कुमार भनवाला ने नाबार्ड की बैलेन्स-शीट के रु. 4000 करोड़ से बढ़कर रु. 4.87 लाख करोड़ तक पहुँचने की विकास यात्रा का संक्षिप्त परिचय दिया. इसके अलावा उन्होंने ऋण, विकास, पर्यवेक्षण और केंद्र तथा राज्य सरकारों को परामर्श देने में नाबार्ड की भूमिका के बारे में भी समझाया. नाबार्ड के अध्यक्ष ने इस बात का भी उल्लेख किया कि बैंकर ग्रामीण विकास संस्थान, लखनऊ भारत सरकार की आईटीईसी योजना के अंतर्गत अफ़्रीकी देशों के वरिष्ठ अधिकारियों को नियमित रूप से क्षमता निर्माण सेवाएँ प्रदान करता है. डॉ. भनवाला ने नैबकॉन्स सहित नाबार्ड की विभिन्न सहायक संस्थाओं के कार्यों की भी जानकारी दी और कृषि वित्त और वित्तीय समावेशन के क्षेत्र में उज़बेकिस्तान की आवश्यकताओं के अनुसार तकनीकी सहायता और सेवाओं के लिए नैबकॉन्स की सेवाएँ देने की पेशकश की.
 
नाबार्ड के उप प्रबंध निदेशक श्री अमलोरपवनाथन, एफ़एसपीडी के मुख्य महाप्रबंधक श्री के वी राव, एसपीडी के मुख्य महाप्रबंधक श्री ए के महान्ति, सीपीडी के मुख्य महाप्रबंधक श्री एस द्विवेदी, उप महाप्रबंधक श्री निरूपम महरोत्रा और उप महाप्रबंधक श्री आर वी रामकृष्ण ने उज़बेकिस्तान के प्रतिनिधि मण्डल के साथ चर्चा में भाग लिया.