Menu

हमारे बारे में

प्रधान कार्यालय विभाग


प्रधान कार्यालय विभाग

विभाग का चयन करें
लेखा विभाग
व्‍यवसाय पहल विभाग
केन्‍द्रीय सतर्कता कक्ष
कार्पोरेट संचार विभाग
कार्पोरेट आयोजना विभाग
आर्थिक विश्लेषण और अनुसंधान विभाग (डीईएआर)
सूचना प्रौद्योगिकी विभाग
परिसर, सुरक्षा और अधिप्राप्ति विभाग
पुनर्वित्‍त विभाग
भंडारण एवं विपणन विभाग
सब्सिडियरीज़ और स्ट्रेटेजिक निवेश विभाग
पर्यवेक्षण विभाग
कृषि क्षेत्र विकास विभाग
कृषि क्षेत्र नीति विभाग
वित्‍त विभाग
मानव संसाधन प्रबंध विभाग
निरीक्षण विभाग
संस्‍थागत विकास विभाग
वित्तीय समावेशन और बैंकिंग प्रौद्योगिकी विभाग
विधि विभाग
सूक्ष्‍म ऋण नवप्रवर्तन विभाग
कृषीत्तर क्षेत्र विकास विभाग
राजभाषा प्रभाग
जोखिम प्रबंधन विभाग
सचिव विभाग
राज्‍य परियोजना विभाग
डाटा प्रबंधन विश्लेषण और व्यवसाय आसूचना विभाग
रणनीतिक आयोजना और उत्पाद नवोन्मेष विभाग
1. उत्पत्ति
 
रणनीतिक आयोजना और उत्पाद नवोन्मेष विभाग (एसपीपीआईडी) की स्थापना 1 जनवरी 2020 को की गई ताकि मौजूदा उत्पादों में लगातार नवोन्मेष किया जा सके और नाबार्ड के अधिदेश के अनुसार वित्तीय क्षेत्र के बदलते परिदृश्य, ग्राहकों की जरूरतों और उभरते हुए ग्रामीण परिदृश्य के अनुरूप नवोन्मेषी उत्पादों को लॉन्च किया जा सके.
 
समावेशी विकास की वर्तमान राष्ट्रीय प्राथमिकता, ग्रामीण आधारभूत संरचना विकास और 2024-25 तक $5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था के विजन को ध्यान में रखते हुए नाबार्ड के अधिदेश का महत्व और अधिक बढ़ जाता है. पारिस्थितिकी तंत्र के अनुरूप नाबार्ड के हितधारकों और ग्राहकों की आवश्यकताओं और अपेक्षाओं में भी बदलाव देखा जा रहा है. 
 
2. विभाग के मुख्य कार्य 
 
  • अपने प्राथमिक कार्यों और उत्तरदायित्वों के साथ नाबार्ड के लक्ष्यों, उद्देश्यों और कार्य-योजनाओं के बीच तालमेल सुनिश्चित करना;
  • विजन और मिशन स्टेटमेंट्स की समीक्षा करना और अल्पावधि/ मध्यावधि/ दीर्घावधि योजनाएँ तैयार करना. 
  • बाह्य और आंतरिक व्यवसाय के आधार पर मौजूदा उत्पादों को नए उत्पादों के साथ एकीकृत करना. 
  • कार्य-निष्पादन, कार्य-प्रणाली, संचार प्रणाली इत्यादि का मूल्यांकन करना और उनमें आवश्यक बदलाव करना. 
  • सामयिक विषयों पर बेहतर समझ विकसित करने के उद्देश्य से हितधारकों की बैठक, टाउन हॉल मीटिंग, संगोष्ठी और सम्मेलन आयोजित करना. 
  • निजी क्षेत्र से प्राप्त वित्त ज्ञान और सरकार के साथ नाबार्ड के गहरे संबंधों का उपयोग करते हुए ग्राहकों की आवश्यकताओं को प्रभावी ढंग से पूरा करने के लिए नवोन्मेषी उत्पाद तैयार करना और उचित समाधान प्रदान करना. 
  • वित्तीय उत्पादों और विकासात्मक गतिविधियों पर मार्केट रिसर्च करना और उत्पाद के विकास हेतु  संकल्पना आधारित फ्रेमवर्क तैयार करना. 
  • नई और उभरती हुई पार्टनरशिप्स के साथ कारपोरेट और लोक-हितैषी फाउंडेशनों के सहयोग को और आगे बढ़ाने की संभावना तलाशना.  
  • बाजार की समस्याओं का अद्यतन विश्लेषण करना, डेटा एनालिटिक्स के उपकरणों का उपयोग करके सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के ग्राहकों को उनकी आवश्यकता के अनुरूप उत्पादों और उपकरणों में सुधार लाना;
  • नाबार्ड के विकासात्मक कार्यों संवर्धनात्मक (प्रोमोसनल) पहलों को बढ़ावा देना और उन्हें  व्यावसायिक प्रस्ताव में तबदील करना.
  • अनुसंधान और विश्लेषण के आधार पर समाधान देने के अतिरिक्त नाबार्ड के सभी व्यवसाय विभागों के साथ समन्वय स्थापित करना. 
 
संपर्क सूत्र 
 
श्री डी नागेश्वर राव
मुख्य महाप्रबंधक 
द्वितीय तल, ‘बी’ विंग
सी-24, ‘जी’ ब्लॉक 
बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स,
बांद्रा (पूर्व)
मुंबई -400051
टेलिफोन : (91) 022-26539430
ई-मेल: sppid@nabard.org