Menu

हमारे बारे में

निदेशक मंडल


निदेशक मंडल

श्री जी. आर. चिंतला 27 मई 2020 से राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) के अध्यक्ष हैं. इसके पहले वे नाबार्ड की सहायक कंपनी नैबफिन्स के प्रबंध निदेशक थे जिसका मुख्यालय बेंगलुरु में है. 
 
श्री चिंतला ने प्रतिष्ठित भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली से स्नातकोत्तर उपाधि प्राप्त की है. उन्होंने नाबार्ड में अधिकारी के रूप में कार्यग्रहण किया और प्रधान कार्यालय, मुंबई तथा विभिन्न क्षेत्रीय कार्यालयों नामतः हैदराबाद, चंडीगढ़, लखनऊ, अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह, नई दिल्ली और बेंगलुरु में विभिन्न पदों पर कार्य किया. वे एग्री बिजनेस फ़िनान्स लि. के उपाध्यक्ष और बैंकर ग्रामीण विकास संस्थान (बर्ड), लखनऊ के निदेशक रह चुके हैं. 
 
श्री चिंतला ने कई परामर्श दायित्व पूरे किए हैं जिसमें 2006 में “क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के समामेलन की रूपरेखा” जैसा महत्वपूर्ण दायित्व शामिल है जिसने 196 क्षेग्रा बैंकों के समेकन के कार्य को दिशा दिखाई. उन्होंने “अनुसूचित जातियों/ जनजातियों की आकांक्षाओं को पूरा करने में स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना की प्रभावोत्पादकता” पर ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा सौंपे गए कार्य को भी पूरा किया है, जिसकी अनुशंसाओं के आधार पर देश भर में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) शुरू करने और चरणबद्ध रूप से एसजीएसवाई को हटाने में मदद मिली. श्री चिंतला ने अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह में उत्पादक संगठन मॉडल को सफलतापूर्वक आरंभ किया. 
 
उन्होंने शोधपत्र प्रस्तुत करने और अन्य कार्यों के लिए यूएसए, चीन, यूरोपीय देशों, बोलिविया, ब्राज़ील, केन्या, सेनेगल, इन्डोनेशिया आदि 20 से अधिक देशों की यात्रा की है.