Menu

हमारे बारे में

प्रधान कार्यालय विभाग


प्रधान कार्यालय विभाग

विभाग का चयन करें
लेखा विभाग
व्‍यवसाय पहल विभाग
केन्‍द्रीय सतर्कता कक्ष
कार्पोरेट आयोजना विभाग
आर्थिक विश्लेषण और अनुसंधान विभाग (डीईएआर)
वित्तीय समावेशन और बैंकिंग प्रौद्योगिकी विभाग
सूचना प्रौद्योगिकी विभाग
परिसर, सुरक्षा और अधिप्राप्ति विभाग
पुनर्वित्‍त विभाग
भंडारण एवं विपणन विभाग
सब्सिडियरीज़ और स्ट्रेटेजिक निवेश विभाग
पर्यवेक्षण विभाग
कृषि क्षेत्र विकास विभाग
कृषि क्षेत्र नीति विभाग
वित्‍त विभाग
मानव संसाधन प्रबंध विभाग
निरीक्षण विभाग
संस्‍थागत विकास विभाग
विधि विभाग
सूक्ष्‍म ऋण नवप्रवर्तन विभाग
कृषीत्तर क्षेत्र विकास विभाग
राजभाषा प्रभाग
जोखिम प्रबंधन विभाग
सचिव विभाग
राज्‍य परियोजना विभाग
कार्पोरेट संचार विभाग
1. आरंभ
 
कारपोरेट संचार विभाग (सीसीडी) का गठन तत्कालीन जन संपर्क प्रभाग के स्थान पर 2011 में किया गया जिसके द्वारा नाबार्ड की संसूचना कार्यनीति पर केन्द्रित और प्रोफेशनल दृष्टिकोण से नाबार्ड की अपेक्षाओं और प्रमुख मूल्यों को नीति निर्माताओं, बुद्धिजीवियों, बैंकरों, शहरी भारत तथा ब्यूरोक्रेट के समक्ष प्रस्तुत करना है.
 
2.  विभाग के प्रमुख कार्य
 
  • सुस्थापित पत्रकारों के साथ प्रत्यक्ष इंटरफेस के लिए मंच तैयार करना, प्रेस में साक्षात्कार, हमारी सफल परियोजनाओं की जानकारी देना और अन्य हितधारकों के साथ बृहद स्तर पर आदान-प्रदान
  • ब्रॉण्ड निर्माण/समेकन की बृहद थीम के साथ विज्ञापन जारी करना
  • निरंतर आधार पर सभी क्षेत्रीय कार्यालयों के साथ कार्य करना तथा सफलता की कहानियों, केस अध्ययनों, नवोन्मेषी प्रयासों और प्रायोगिक प्रयासों आदि का डेटाबेस तैयार करना.
  • पोस्टरों और लघु फिल्मों के रूप में सफलता की इन कहानियों के अभिलेखन द्वारा परंपरा सृजित
  • लघु फिल्मों के निर्माण हेतु विभिन्न संचार संस्थाओं छात्रों को कार्य पर नियोजित करना
  • संपूर्ण देश में पत्रिमेगा साइन्स, होर्डिंग इत्यादि के लिए आर्टवर्क तैयार करना
  • मानकीकृत संसूचना स्रोतों को विकसित करना और उनका अनुपालन सुनिश्चित करना
  • नाबार्ड के यूट्यूब चैनल का नाबार्ड के सफल सहयोग पर फिल्मों को दिखाने के लिए एक माध्यम के रूप में उपयोग करना
  • हमारी वेबसाइट www.nabard.org का अनुरक्षण और अद्यतन करना
विभिन्न संगोष्ठियों/बैठकों के लिए ईवेंट प्रबंधन करना
 
3.  विभाग की प्रमुख उपलब्धियां :
 
 
स्थापना के समय से सीसीडी की उपलब्धियों का सारांश निम्नानुसार है :
 
  • मीडिया के साथ संयोजन - व्यापक आधार, बेहतर कवरेज 2015-16 के दौरान, 1000 बार से अधिक मीडिया में नाबार्ड की कवरेज हुई.
  • पेशेवर एजेन्सियों के माध्यम से आंतिरिक और बाह्य हितधारक विश्लेषणों के द्वारा नाबार्ड के महत्व को दर्शाना.
  • अहम और महत्वपूर्ण अवसरों पर सफल ईवेंट प्रबंधन.
  • नाबार्ड की ओर से कारपोरेट विज्ञापन जारी करना.
  • फिल्मों का निर्माण और संपादन.
  • 31 मार्च 2016 तक 56 यूटूयब पर फिल्म अपलोड की गई. हमारे यूट्यूब चैनल पर 111 वीडियो हैं 187 देशों में 95,077 लोगों ने देखा है. चैनल के महत्व को इस बात से जाना जा सकता है कि नाबार्ड को मुंबई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव 2016 में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया था - नाबार्ड के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण था जब नाबार्ड ने अंतर्राष्ट्रीय दर्शकों के समक्ष विकास परियोजनाओं को दिखाया.
  • 2015-16 के दौरान नाबार्ड वेबसाइट को 9.8 मिलियन लोगों ने देखा. 
  • नाबार्ड परिवार, हमारी गृहपत्रिका, ऑनलाइन हो चुकी है. इसे हम एक बड़ी उपलब्धि मानते हैं जिसने और अधिक इसे प्रगतिशील और समावेशी प्रकाशन बनाने में सहयोग करने का प्रत्येक व्यक्ति को अवसर प्रदान किया है.
  • अधिक जानकारी शेयर करना, गुणवत्ता सुनिश्चित करना  
  • सीसीडी ने उपलब्ध ऑनलाइन संसूचना स्रोतों के सेट को विस्तृत कर प्रौद्यिगकी का अधिकतम लाभ उठाया है. लोगो, लेखन सामग्री और अन्य उपयोगी स्रोतों को नैबनेट, हमारे कारपोरेट इंट्रानेट पर अपलोड किया गया है. क्षेत्रीय कार्यालय पहले की तुलना में आज अधिक सशक्त है. 
  • प्रकाशन और पुरस्कार : विभाग ने अधिकांश आंतरिक प्रकाशनों को डिजाइनों की एक नई विरासत प्रदान की है. 100 से अधिक सफलता की कहानियों को रंगीन पोस्टरों के रूप में रूपांतरित किया है. इस डिजाइन की पुनर्रचना ने उद्योग में अपनी एक पहचान बनाई है - एसोसिएशन ऑफ बिजनेस कम्युनिकेटर्स ऑफ इंडिया से 3 तथा इन-हाउस कम्युनिकेशन एक्सेलेन्स से प्राप्त पुरस्कार इसके प्रमाण है.
4.  चल रही परियोजनाएं :
 
  • नई कारपोरेट वेबसाइट – अंतर्राष्ट्रीय स्तर की नई पीढ़ी की वेबसाइट का निर्माण जो बहु प्लेटफार्मों पर चलने में सक्षम हैं. 
  • कॉफी टेबल बुक – नाबार्ड के 100 से अधिक सफल परियोजनाओं का विविध रंगी और प्रभावशाली निरूपण
  • नई कारपोरेट फिल्म – स्मार्ट, नई पीढ़ी की कारपोरेट फिल्म जिसमें नाबार्ड के संपूर्ण परिदृश्य को फिल्माया गया है.
  • नया कारपोरेट ब्रोशर – अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशनों के समकक्ष स्मार्ट ब्रोशर.
  • 48 नई फिल्में बनाई जाएंगी जिसमें हमारे उत्कृष्ट परियोजनाओं को अभिलिखित किया जाएगा. 
संपर्क :
 
श्री पी वी एस सूर्यकुमार 
मुख्य महाप्रबंधक
नाबार्ड, प्रधान कार्यालय मुंबई
2री मंजिल, 'ए' विंग
सी-24, 'जी' ब्लॉक
बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स, बांद्रा (पूर्व)
मुंबई 400 051 
टेली : (91) 022 26524693
ई-मेल : ccd@nabard.org
फैक्स : 91 (022) 26530067