NABARD CONSULTANCY SERVICES

नाबार्ड कंसल्टेंसी सर्विसेज़

वेबसाइट पोर्टल का पता: www.nabcons.com

नैबकॉन्स (नाबार्ड कंसल्टेंसी सर्विसेज़) नाबार्ड के पूर्ण स्वामित्व में एक सहायक संस्था है जिसकी स्थापना 2003 में कृषि, ग्रामीण विकास और अनुषंगी क्षेत्रों के सभी विषयों पर परामर्श उपलब्ध कराने के लिए की गई. अपने मूल संगठन नाबार्ड की पूरे देश में उपस्थिति का प्रभावी लाभ उठाते हुए नैबकॉन्स ने पूरे देश में अपनी महत्त्वपूर्ण जगह बनाई है. नैबकॉन्स का कॉर्पोरेट कार्यालय नई दिल्ली में है, मुंबई, हैदराबाद और गुवाहाटी में अंचल कार्यालय हैं और सभी राज्यों में 29 प्रधान परामर्शदाता कार्यालय हैं. नैबकॉन्स 17 वर्षों के दीर्घ अनुभव, 2500 से अधिक परामर्श कार्यों की पूर्णता, 300 पूर्णकालिक स्टाफ, 500 से अधिक सूचीबद्ध बहुविद्याविदों और विशिष्ट विषय-विशेषज्ञों की सक्रिय टीम के साथ, भारत और विश्व के 400 से अधिक ग्राहकों को परियोजनाओं की आयोजना और निष्पादन में अपेक्षित सहयोग दे रहा है.

व्यवसायगत चुनौतियों और ग्राहक-आवश्यकता के हिसाब से नैबकॉन्स ने अपने सात प्रमुख वर्टिकलों के अंतर्गत अपने व्यवसाय क्षेत्रों को, विशिष्ट सेक्टरों की निरंतर परिवर्तनशील गतिशीलता के अनुरूप बनाया है. ये प्रमुख वर्टिकल हैं -कृषि और पशुपालन (एएएच), खाद्य प्रसंस्करण और भंडारण (एफपीएस), तृतीय पक्ष अनुप्रवर्तन और आधारभूत संरचना (टीपीएम), अंतरराष्ट्रीय व्यवसाय और जलवायु परिवर्तन (आईबी ऐंड सीसी), आजीविका कौशल, बैंकिंग और वित्त (बी ऐंड एफ) और सामाजिक-आर्थिक अध्ययन. इन व्यवसाय वर्टिकलों के सहयोग के लिए समुचित सेवा वर्टिकल भी हैं, जैसे मानव संसाधन (एचआर), सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी), कॉर्पोरेट कार्य और सिविल इंजीनियरिंग.

अपनी अलग विशिष्टता के लिए प्रसिद्ध नैबकॉन्स की लंबी साझेदारी विविध क्लायंटों के साथ रही है, उदाहरण के लिए , भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालय, सभी राज्य सरकारें, सांविधिक निकाय/ निगम/ अभिकरण, सार्वजनिक क्षेत्र के ग्राहक, अनेक अंतरराष्ट्रीय बैंक. नैबकॉन्स को एक्जिम बैंक, डब्ल्यूडीआरए, निफ़्टेम जैसे अनेक बहु-पार्श्विक संगठनों, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय, महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय, ग्रामीण विकास मंत्रालय तथा विभिन्न राज्य सरकारों व अन्य एजेंसियों ने अपने-अपने क्षेत्र के परामर्श कार्यों के लिए अपने पैनल में रखा है.

कोविड-19 के बाद के “न्यू नॉर्मल” में विभिन्न सेक्टरों में नई प्रौद्योगिकियों के अंगीकरण की प्रकृति में तेजी से परिवर्तन देखा जा रहा है. नैबकॉन्स नए अवसरों को पहले से देख पाने में सफल रहा है और कृषि-भंडारण आधारभूत संरचनाओं की जियोटैगिंग, एंटरप्राइज़ आर्किटेक्चर, जीआईएस सेल की स्थापना, हिमाचल प्रदेश में मंडी प्रबंध सूचना प्रणाली जैसे कार्यों की संविदाएँ निष्पादित की हैं. नैबकॉन्स ने विभिन्न उद्योगों की संभावित माँग के अनुरूप अपनी आईटी आधारभूत संरचना को अद्यतन बनाने का काम भी किया है.

कृषि और अनुषंगी क्षेत्र के विकास के लिए परामर्श और परियोजना प्रबंधन सेवाओं के क्षेत्र में अग्रणी संगठन के रूप में उभरने के विज़न के साथ नैबकॉन्स अन्य ज्ञान साझेदारों के साथ सहयोग के माध्यम से नए उभरते व्यवसाय अवसरों की तलाश कर रहा है, बाजार में अपनी उपस्थिति और भूमिका को अधिक दिखाने और अपना नेटवर्क बढ़ाने पर जोर दे रहा है, अलग-अलग विषयों और सेक्टरों पर पेपर ला रहा है, चुने हुए कृषि-पण्यों के स्रोत तक पहुँच सकने की क्षमता के लिए ब्लॉकचेन और डिजिटल लेजरों का उपयोग कर रहा है, आदि आदि.

आने वाले वर्षों में ‘व्यवसाय से आगे बढ़कर ज्ञान’ के ध्येय-वाक्य के प्रति निष्ठा के साथ नैबकॉन्स नवोन्मेष, बेहतर परिचालन दक्षता, ग्राहकों पर ध्यान के अधिक संकेन्द्रण और रणनीतिक कुशलता के साथ संचालित होता रहेगा.

ब्रोशर डाउनलोड करें

संपर्क विवरण

श्री नीरज कुमार वर्मा
प्रबंध निदेशक
नाबार्ड कंसल्टेंसी सर्विसेज़ प्रा. लि. (नैबकॉन्स)
(नाबार्ड के पूर्ण स्वामित्व में सहायक संस्था)
7वीं मंजिल, नाबार्ड टावर, 24 राजेन्द्र प्लेस
नई दिल्ली - 110125
टेली: 011 – 41538678/25745103,
फैक्स– 011-25753410,
संपर्क नं. - 2226526839
ई-मेल: md@nabcons.in